CENTRE OF ORIGIN OF CROP PLANT | फसल की उत्पत्ति का केंद्र

Published by Dakshya on

जब जंगली पौधे(Wild plant)  को मनुष्य के देखरेख में उगाया जाता है उसे घरोई करण कहते हैं । आज तक जितनी भी फसल वर्तमान में उगाया जा रहा है सारी फसल की Picses जो है कभी ना कभी जंगली प्रजाति के रूप में उत्पत्ति हुई थी और मनुष्य जब उसे अपनी देखरेख में वह उगाना शुरू किया  तो वहीं से  पौधे– यानी की फसल की घरोई करण (Domestications of crop plant)  शुरू हुआ। और अभी आप जो फसल देखते हैं वह वहीं से विकसित हुआ है तो डेफिनेटली किसी ना किसी जगह को Origin Centre या Origin place मानाजाना चाहिए , है कि नहीं  । किसी भी फसल के लिए जिसे पहली बार उगाई गई हो। जहां  उस की उत्पत्ति हुई हो । उस जगह को ही Centre of Origin of Crop Plant कहते हैं।


Centre Of Origin of Cultivated Plant  Botany की एक महत्वपूर्ण विषय है जो आज हम सरल भाषा हिंदी में समझेंगे। इतनी सारी लिखावट देखकर घबराने की कोई बात नहीं है आसान भाषा में आप को समझाने का मेरा प्रयास रहेगा। मुख्यतः आपको जो जो चीज इस विषय में जानना चाहिए वह सारे संक्षिप्त में आप यहां जान पाएंगे वह भी हिंदी में।


Origin of Crop Plant मतलब होता है-   

 Origin – मतलब- उत्पत्ति   

 Crop  –   मतलब- फसल   

 Plant  – मतलब- पौधे

दुनिया में जो जो खेती की जाती है उस फसल की उत्पत्ति कहां हुई है?  क्या हमारे देश में हुई है  या बाहर के देशों  में हुई है ? सारे फसल के बारे में जानना ही है Origin Of Crop Plant in Hindi. 

इन फसलों की उत्पत्ति के बारे में पूरी विवरण किसने दी थी ? all Details about Centre of Origin of crop plant.

• वैज्ञानिक Vevilov  रूस  के Botanist थे । वह फसल की उत्पत्ति कैसे हुई इस बारे में काम करते रहते थे। वह Origin of Crop Plant की अविष्कार की थी।


• फसल की उत्पत्ति की केंद्र खोज(Discover) किस-किस आधार पर किए? Ans- मार्फोलॉजी, कोशिका अध्ययन, पौधे की भौगोलिक और वितरण आधार को देखकर Vevilov sir ने फसल की उत्पत्ति की केंद्र की खोज की है।


• Vevilov 1927 year मैं वह एक बुक लिखे थे जिसका नाम है- Centre of Origin of Cultivated Plant . इस पुस्तक में फसल की उत्पत्ति के बारे में लिखा गया है। पूरी विश्व भर में 8 Centre  जहां से फसल की उत्पत्ति हुई थी।


आज हम Centre of Origin of crop plant  in Hindi मैं जानेंगे पूरी जानकारी। दुनिया में कहां-कहां फसल की उत्पत्ति हुई थी इस बारे में Vevilov के पुस्तक Centre of Origin of Cultivated plant के आधार पर जानेंगे।


CHINESE CENTRE OF ORIGIN:-

it earlier and largest Centre of Origin of crop plant.  This region mainly include mountain of New Himalayas region. There are about 130 species originated at the Past and Present Time. Paddy, wheat, millet, Barley, coffe, soybean, tea, bamboo,ledy finger, sugarcone .
यह  फसल  की उत्पत्ति का सबसे बड़ा केंद्र है। इस क्षेत्र में मुख्य रूप से न्यू हिमालय क्षेत्र का पर्वत शामिल है। आज तक अतीत और वर्तमान समय में लगभग 130 प्रजातियों की उत्पत्ति हुई है। यह केंद्रों में क्या-क्या फसल मिलता है – धान, गेहूं, बाजरा, जौ, Coffee, सोयाबीन, चाय, बांस, भिंडी, गन्ना।

INDIAN CENTRE OF ORIGIN:-

 इंडियन सेंटर ऑफ ओरिजिन मैं दो सेंटर है। एक हैै मेन सेंटर और दूसराा है इंडो मुलायम सेंटर .

• Main Centre:-  

In indian centre about 117 pieces develop that Jute, paddy, eggrlant , Tea, mango, Coffe and Orange etc.
इस भारतीय उत्पत्ति केंद्र में लगभग 117 प्रजाति विकसित हुए हैं जिनमें जूट, धान, बैंगन, चाए, आम, कॉफी और संतरा आदि फसल  शामिल हैं।


• Endo-malayan Centre:-

 in endo-Malayan Centre about 55 pieces Responted that is Banana, Coconut,   Different type of spices,  sugarcon etc.
एंडो-मलयन सेंटर में लगभग 55 प्रजाति बताए  है उनमें से है केला, नारियल,  अलग-अलग प्रकार के मसाले, गन्ना आदि प्रजाति की उत्पत्ति हुई थी।

3. CENTRE ASIANTIC CENTRE OF ORIGIN:-

this Centre consists of some pont of india , China, Afghanistan, Uzbekistan, Tajikistan, Iran etc. Nearly 43 Plant are Originated in this Centre that is – Wheat,Cotton, Corrat, pea ,spices,  Almond, Afeem, Apple, watermalon, Bean, Garlic and sun hemp etc.
इस केंद्र में भारत, चीन, अफगानिस्तान, उज्बेकिस्तान, ताजिकिस्तान, ईरान आदि के कुछ क्षेत्र शामिल हैं। इन देशों की कुछ-कुछ भाग इन सेंटर के अंदर आते हैं। इस केंद्र में लगभग 43 पौधे उत्पन्न हुए हैं । उत्पन्न पौधे में से-  गेहूं, कपास, कोरट, मटर, मसाले, बादाम, अफीम, सेब, तरबूज, बीन, लहसुन और सन भांग आदि।

4. EASTERN CENTRE OF ORIGIN:-

This region include gulf countrie Like – Iran,  Iraq,  Kuwaiti and saudia. Originated Plant ane are Pamegranate, Almond, chery, and walnut etc.
इस क्षेत्र में खाड़ी देश शामिल हैं जैसे – ईरान, इराक, कुवैती और सऊदी। इन देशों में ज्यादातर उत्पन्न होने वाले पौधे के नाम है – अनार, बादाम, चेरी और अखरोट आदि मूल पौधे हैं।

5. MEDTERRIAN CENTRE OF ORIGIN (sea)


There are 81 pieces reported at  the Country the sea area. Those Country are mainly srilanka, south and north corea , Malaysia and Indonesia etc. The important Plant are Turnip, cabbage, mustard ,pipermint mainly vegetable etc. 

इन देश के समुद्री क्षेत्र में 81 टुकड़े बताए गए हैं। वे देश मुख्य रूप से श्रीलंका, दक्षिण और उत्तर कोरिया, मलेशिया और इंडोनेशिया आदि हैं। इनमें मिलने वाले महत्वपूर्ण पौधे शलजम, गोभी, सरसों, पुदीना मुख्य रूप से सब्जी आदि हैं।

6.AFRICAN CENTRE OF ORIGIN:-

 This region include Ethiopia, some pont of omalin etc. It has about 38 pieces notive like wheat, barlay, coffe,tea, ladies finger etc. 

इस क्षेत्र में इथियोपिया, ओमालिन के कुछ पोंट आदि शामिल हैं। इसमें लगभग 38 टुकड़े हैं जैसे गेहूं, जौ, कॉफी, चाय, भिंडी आदि।

7. SOUTH MEXICO AND CENTRE AMERICAN CENTRE OF ORIGIN:- 

 This region include maxico, Brazil, Costorica  etc. It is main place of mainly Cultivad Plant like Corn,Sweet potato, Papaya, Tabacco ,Guava etc 

इस क्षेत्र में मैक्सिको, ब्राजील, कोस्टोरिका आदि शामिल हैं। यह मुख्य रूप से मकई, शकरकंद, पपीता, तंबाकू, अमरूद आदि खेती करने वाले Plant का मुख्य स्थान है। 

8. SOUTH AMERICAN CENTRE OF ORIGIN:-

This region mainly develop in canada and mountain area of chilly. The native plants are Tamato, potato, Chinchona( malarial medicine),Ground nut , Rubber , pamkin and pine Apple etc. 

यह centre मुख्य रूप से कनाडा और chilly के पर्वतीय क्षेत्र में विकसित होता है। इनमें ज्यादातर देशी पौधे टमाटर, आलू, चिनकोना (मलेरिया की दवा), मूंगफली, रबड़, पामकिन और अनानास आदि हैं।

Last

उत्पत्ति का केंद्र एक भौगोलिक क्षेत्र है जहां जीवों का विशेष समूह (या तो घरोई या जंगली) सबसे पहले पृथ्वी पर उत्पन्न हुआ। बहुत से लोगों का मानना ​​था कि उत्पत्ति के केंद्र भी विविधता के केंद्र हैं। लेकिन, विविधता के केंद्र नहीं हो सकते हैं फसल पौधों की उत्पत्ति के केंद्रों का प्रतिनिधित्व करते हैं। हालांकि कुछ प्रजातियों में हो सकता है एक से अधिक स्थानों पर अलग-अलग उत्पन्न हुए, लेकिन अधिकांश प्रजातियों की उत्पत्ति हुई एक निश्चित स्थान पर और फिर कहीं और फैल गया। दूसरे शब्दों में, उत्पत्ति के केंद्र में एक फसल आम तौर पर एक स्थान तक ही सीमित होती है, जबकि विविधता का केंद्र हो सकता है एक से अधिक स्थानों पर पाया जाता है। 

Categories: EDUCATION

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.