ड्रैगन फ्रूट से जुड़े 30 तथ्य | About Dragon Fruit in HINDI.

Published by Pintu on

Dragon Fruit photo

जीवन में तो आप बहुत सारे फल खाए ही होंगे लेकिन क्या आपने कभी ड्रैगन फ्रूट खाए हैं. कुछ लोग तो यह नाम पहली बार सुन रहे होंगे. बहुत सारे लोग ऐसे भी हैं जो यह फल को शायद ही खाए हो. तो चलिए दोस्तों जानते हैं क्या है ड्रैगन फ्रूट , कहां कहां मिलता है, इसे खाने के क्या-क्या फायदे हैं. यह सभी जानकारी इसी आर्टिकल में हम आपको देने वाले हैं.

अपने सेब, केला, आम जैसी बहुत सारी फल तो खाई ही होंगे लेकिन ड्रैगन फूड सभी जगह उपलब्ध हो नहीं पाता. और यह  फलों में सबसे महंगा होता है. अर सभी जगह नहीं मिलता. इसे खाने से बहुत फायदे होते हैं. इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाया जाता है.

ड्रैगन फूड शरीर से जुड़े बहुत सारी समस्या  से आराम पाने के लिए इसे उपयोग किया जाता है। ड्रैगन फ्रूट यह नाम इसके रंग रूप को देख कर दिया गया है।

Dragon Fruit photo
Dragon Fruit

ड्रैगन फ्रूट एक स्वादिष्ट फल होता है। यकीन मानिए इसके बारे में जानने के बाद इसको खाने से खुद को रोक नहीं पाएंगे. तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं यह आर्टिकल को.

ड्रैगन फ्रूट से जुड़े जानकारी ( About dragon Fruit in Hindi)


• ड्रैगन फ्रूट एक किस्म की बेल पर लगने वाला फल है, जो कैक्टेसिया परिवार से संबंध रखता है. और इसके तने रसीले और गुदेदार होता है।


• यह दक्षिण अमेरिका में पाए जाने वाला फल है. इसे उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों उगाया जाता है.


• ड्रैगन फ्रूट का वैज्ञानिक नाम हिलोकेरेस अंडटस (hylocereus) है।


• ड्रैगन फ्रूट के फूल बहुत ही सुगंधित होते हैं और यह रात में ही खेलते हैं। सुबह होते ही झड़ जाते हैं।


• क्या फल को पहले केवल दक्षिण अमेरिका में उगाया जाता था लेकिन अभी के समय इसे पटाया, क्वींसलैंड, पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स में भी उगाया जाने लगा है।


• ड्रैगन फ्रूट दो किस्म के होते हैं – सफेद गुदे वाला और लाल गुदे वाल।  इसके अलावा वैज्ञानिकों ने इसके बहुत सारी प्रकार बना चुके हैं।


• इसे आप आराम से काट कर खा सकते हैं इसके अलावा सलाद, मुरब्बा, जेली और शेक बनाकर भी खा सकते हैं।


• ड्रैगन फ्रूट में कैलोरी कम होती है. लेकिन आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होता है।


• इसमें कैरोटेनॉइड्स (carotenoids), पॉलीफेनोल्स (polyphenols)और बीटासैनिन (betacyanins) जैसे संयंत्र यौगिक भी हैं.  इसमें फाइबर के साथ-साथ कई एंटीऑक्सीडेंट भी पाए जाते हैं.

ड्रैगन फ्रूट कैसा होता है.

ड्रैगन फ्रूट हरे रंग की स्पाइक जैसी पत्तियों के साथ गहरे गुलाबी रंग का होता है. इसे जब काटा जाता है तो इसके अन्दर से काले और सफेद रंग के बिज होते हैं. यह फल लाल और पीले रंग के स्किन में भी पाया जाता है.

इसके कांटेदार स्केलि पत्तों के कारण दक्षिण पूर्व एशिया के लोग इसे ड्रैगन फ्रूट नाम से बुलाते हैं। हिंदी में इसे ड्रैगन फल कहते हैं। या रसीले और स्वादिष्ट फल होता है।

ड्रैगन फ्रूट को कैसे खाते हैं?

ड्रैगन फ्रूट के अंदर के गूदे को खाते हैं। और यह कांटेदार स्केलि पत्तों से अवरुद्ध होते हैं। इसे आराम से काट कर खा सकते हैं। इसे काटने के बाद इसके अंदर से सफेद या काला गुदा निकलता है, जिसे आप आराम से खा सकते हैं। यह रसीला और स्वादिष्ट होता है।

भारत में ड्रैगन फ्रूट की कीमत


मैं ओड़ीसा में रहता हूं और यहां ड्रैगन फ्रूट बहुत सारी जगह में उपलब्ध नहीं होती। लेकिन एक बार संबलपुर जिले में इसे खाने का आनंद उठाया था। यह बात है इसी साल की, मुझे एक ड्रैगन फ्रूट खरीदने के लिए 165 रुपया खर्च करना पड़ा था. एक ड्रैगन फ्रूट लगभग 220 ग्राम से 350 ग्राम तक होगा. यह बाकी फलों में से सबसे महंगा होता है.

लेकिन बता दे आपको कुछ जगहों में यह फल 250 से 400 रुपए प्रति किलो तक हो सकती है. जगहों के हिसाब से इसकी प्राइस घट बढ़ सकती है.

Categories: AMAZING FACTS

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.